.

Friday, March 4, 2016

“Yes , We Can ” Quotation of Famous Personality in Support of This.

“Yes , We Can ”Quotation of Famous Personality in Support of This. 
Nothing is impossible in life . Success only comes to those who are vigilant and never deviate from their chosen goal. We can do everything if we have love for that. Only chose that goal in which you have 
interest and love. 
Have an Aim. The quality of your aim will determine the quality of your life. Your aim should be high and wide,
generous and disinterested; this will make your life precious to your self and to Others. -------Sri Aurobindo
All good things are difficult to achieve; and
bad things are very easy to get. :-----Morarji Desai
Men are born to succeed , not fail. :-----H.D. Thoreau
That some achieve great success , is proof to all that others can achieve it as well.:--A. Lincoln
The Dictionary is the only place where success comes before work.:- -- 
Mark Twain
Do not let what you cannot do , Interfere with what you can do.:-- John Wooden
Once best success comes after their greatest disappointments. :-- H.W. Beecher
Success is not the key to success , Happiness is the key to success. If you love what you are doing , 
You will be successful.:---- Albert Schweitzer
Do a little more each day than you think you possibly can.:--- L. Thomas
People rarely succeed unless they have fun in what they are doing.:---- D. Carnagie
It takes 20 years to make an overnight success.:----- E. Cartor
Success is getting what you want , happiness is wanting what you get.:---- D. Gardner
For More Information visit = HERE

Friday, November 29, 2013

संघर्ष से ही हमें शक्ति मिलती है

     संघर्ष से ही हमें शक्ति मिलती है ! इस बात को समझाने के लिए एक तर्क देते हैं !
         तितली caterpillar के रूप में सबसे पहले कोकून से निकलती है ! ( कोकून वही है जो शहतूत के पतों पर होता है और इसी से रेशम बनता है ) लेकिन जब यह कोकून से निकलती है तो इसे बहुत ज्यादा संघर्ष करना पड़ता है !
       एक बार मेरे एक विद्यार्थी ने पूछा कि " सर, मैं जिंदगी से बहुत परेशान हूँ ! मुझे बहुत ज्यादा काम कर के पैसे कमा कर अपनी फीस भरनी पड़ती है और बाकि सभी को उनके माता पिता दे देते है परन्तु मेरे साथ ही ऐसा क्यों ! मेरे माता पिता मेरी फीस भरने को असमर्थ क्यों है और इसमें मेरा क्या कसूर है ! मैं बहुत ही निराश हूँ ! "
     इस पर मैंने कहा कि " बेटे निराश मत हो , मैं तुम्हे एक कहानी सुनाता हूँ , एक बार गुरुकुल में गुरु जी अपने शिष्यो को साथ लेकर जंगल में जा रहे थे कि अचानक दो तीन कोकून शहतूत के पेड़ से नीचे गिरे ! इस पर शिष्ये उनको उठा कर गुरु जी के पास ले आए और बोले कि देखिये गुरु जी यह क्या है " ! इस पर गुरु जी बोले कि देखना अभी क्या होता है ! उनके देखते देखते कोकून हिलने लगा और उसमे से एक caterpillar अपने नाजुक नाजुक पंखो से मुश्किल से बाहर आने की कोशिश कर रहा था ! वह कभी थक कर रुक जाता फिर जोर जोर से निकलने के लिए पंख फड़फड़ाता ! काफी देर के संघर्ष के बाद वह बाहर आ जाता है ! इसके बाद वह तितली के रूप में उड़ जाता है! इसके बाद दूसरा कोकून भी हिलने लगता है और इसके बाद उसमे से भी इसी तरह caterpillar अपने नाजुक नाजुक पंखो से संघर्ष करके बाहर आने की कोशिश करता है ! परन्तु उन विद्यार्थीओ में  किसी एक विद्यार्थी से यह संघर्ष देखा न गया ! उसने उस कोकून को थोडा खुला कर दिया ताकि वह caterpillar आसानी से बाहर निकल जाये! परन्तु वह caterpillar आसानी से निकल तो गया परन्तु कभी उड़ नहीं पाया ! इस पर उसने गुरु जी से पूछा कि "  गुरु जी , ऐसा क्यों हुआ मैंने तो मदद की थी ! तब गुरु जी ने कहा " बेटा आपने तो मदद की परन्तु वह caterpillar संघर्ष नहीं कर पाया , इसीलिए इसके पंख मज़बूत नहीं हुए ! अतः अब यह सारी जिंदगी उड़ नहीं पायेगा " !
          फिर मैंने अपने विद्यार्थी से कहा की देखो बेटा आप अभी संघर्ष कर रहे है इसीलिए बाद में जिंदगी में बहुत ऊँचा जायेंगे ! तब आप पाएंगे की आपके साथ वाले बहुत नीचे रह गए !
                              अतः हम कह सकते है कि संघर्ष में शक्ति है!   

Thursday, November 28, 2013

Encouragement Tips

  सीखना शुरू करना जीत की ओर बढ़ना है
हमेशा सीखने के लिए उत्सुक रहें ! कभी यह न सोचे की मैंने सब कुछ सीख लिया अर्थात आप में यह अहंकार की भावना न हो की में ही श्रेष्ट हूँ बाकी सब तुच्छ ! आपको एक बच्चे से भी अच्छी सीख मिल सकती है ! अतः हमेशा सीखने के लिए तत्पर रहें !
एक बार की बात है जब अमिताभ बच्चन जी संघर्ष के दिनों में थे तब वह किसी बड़े थिएटर में काम पाने के लिए उसके मालिक के पास गए ! उन्होंने उस से कहा की मैंने सब तरह की फिल्मे देखी है इटली , जर्मनी हर तरह की फिल्मे देखी है और मैं थिएटर करना चाहता हूँ तो उस थिएटर के मालिक ने बड़े प्यार से अमिताभ बच्चन को अपने पास बैठाया और चाय मंगवाई ! उस थिएटर के मालिक ने प्याली में चाय डाली परन्तु वह चाय डालते ही गए ! इस पर अमिताभ बच्चन जी ने कहा कि श्रीमान जी चाय प्याली से बाहर गिर रही है ! इस पर उस थिएटर के मालिक ने कहा कि " मुझे पता है " हम अपने थिएटर में ठीक खाली प्याले कि तरह ही चाहते है ! 
इस पर अमिताभ बच्चन जी समझ गए और यह बात गांठ बांध ली और आज तक इस पर कायम है और वह सीखने के लिए तत्पर रहते है ! जो सफलता आज उन्हें मिली है वह इसी का परिणाम है ! KBC की सफलता इसी का परिणाम है , KBC में तो लिखते भी है की " सीखना बंद तो जीतना बंद " ! 

Tuesday, March 10, 2009

Encouragement Tip

Now a days everyone have to face cut throat competition in every field  It may be a competition or Job area, there is cut throat competition everywhere . But if you have a strong will power, then you can do . You have to choose your destination by strong will power & prepare for this with single minded effort . In our life success & failure comes together . But only those person taste the success who have power to face the failure. First step of success is failure . You have to learn from your failure.
There are following things which are enemy of success .
1. Laziness
2. Can i do it i.e there is a doubt
3. What happen after this ?
4. Negative thinking
These things should be thrown away from your thinking. Always think positive . Yes i can do it . No one can stop me. These things you have to adopt in your life. There are so many people in our society who discourage you . But one thing you have to kept in your mind that no one can stop you to fulfil your dream.

I am giving you a tip . If you have any dream in your life & you are preparing for it seriously , then whole world would be try to full-fill your dream. Everything would be in your favour.
So if you have such type of dream then we at DEM there to fulfil your dream.
Always remember   there is a vacancy at top position . 

.